Saturday, June 16, 2007

नारद जी , हमे भी जेल भेज दीजिए



4 comments:

आलोचक said...

हमे भी भेज दीजिये जेल । हम भी गन्दे नैपकिन है ।

अनूप शुक्ला said...

इस प्रश्नवाचक चिन्ह पर जेल जाने के लिये आपको तमाम अहर्तायें पूरी करनी होंगी-
१. आपको ३२ साल पीछे सन १९७५ में जाना पड़ेगा।
२. आपको नरेंद्र मोहन बनना पड़ेगा।
३. आपको जागरण अखबार का प्रबंध संपाद्क बनना पड़ेगा।
४.आपको तत्कालीन सरकार से आपातकाल लगवाना पड़ेगा।
५. आपको अपने संपादकीय में इसे लगाना पड़ेगा।
६. इस प्रश्नचिंह को काला करना पड़ेगा।
आप इनमें से कोई अहर्ता पूरी नहीं करते इसलिये आप जेल जाने के अधिकारी नहीं लगते! :)

Aflatoon said...

साधारणतया मौन अच्‍छा है,
किन्‍तु मनन के लिए .
जब शोर हो,
चारो ओर सत्‍य के हनन के लिए,
तब तुम्‍हे अपनी बात ज्‍वलन्‍त शब्‍दों में कहनी चाहिए.
सिर कटाना पडे या न पडे,
तैय्‍यारी तो उसकी रहनी चाहिए .
–भवानी प्रसाद मिश्र

हरिराम said...

जेल जाने के लिए तगड़ी 'रिश्वत' देनी पड़ेगी, क्योंकि वहाँ जाने पर मुफ्त का खाना और 'ब्लॉग-मीडिया' में भारी प्रसिद्धि जो मिलेगी।